(Registration) यूपी कन्या सुमंगला योजना 2022: Apply Form | UP Kanya Sumangala Yojana Status

यूपी कन्या सुमंगला योजना | कन्या सुमंगला योजना पंजीकरण | Kanya Sumangala Yojana 2022: | Kanya Sumangala Yojana Registration | UP Kanya Sumangala Yojana Status | कन्या सुमंगला योजना Online Apply | Uttar Pradesh MKSY Registration application form | कन्या सुमंगला योजना आवेदन | कन्या सुमंगला योजना लिस्ट | UP Kanya Sumangala Yojana

Table of Contents

यूपी कन्या सुमंगला योजना 2022 की जानकारी

UP Kanya Sumangala Yojana Status :- बेटियों के प्रति नकारात्मक सोच को बढ़ाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार के सहयोग से लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। जिसके लिए उत्तर प्रदेश सरकार कई तरह की योजनाएं संचालित करती है। कन्या सुमंगला ऐसी ही एक योजना है। इस योजना के माध्यम से राज्य की महिलाओं को ₹15000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। इस लेख के माध्यम से, आपको UP Kanya Sumangala Yojana से संबंधित संपूर्ण अभिलेखों की आपूर्ति की जाएगी।

आप इस लेख के अध्ययन के माध्यम से उत्तर प्रदेश UP Kanya Sumangala Yojana की पात्रता, लाभ, सुविधाएँ, आवश्यक फाइलों आदि से संबंधित अभिलेख प्राप्त करने की स्थिति में भी होंगे। यदि आप यूपी UP Kanya Sumangala Yojana का लाभ पाने के पात्र हैं तो आपको इस योजना के तहत पालन करना होगा। आवेदन करने की पूरी तकनीक इस लेख के माध्यम से आपके साथ साझा की गई है।

UP Kanya Sumangala Yojana

UP Kanya Sumangala Yojana 2022

इस UP Kanya Sumangala Yojana के तहत बालिका को कुल 15000 रुपये राज्य सरकार के सहयोग से तथा बालिका को दी जाने वाली पूरी राशि 6 ​​समान किश्तों में दी जाएगी। इस UP Kanya Sumangala Yojana 2022 के तहत लड़की के परिवार की वार्षिक आय अधिकतम 3 लाख या उससे कम होनी चाहिए। इस योजना का पूरा बजट उत्तर प्रदेश सरकार की सहायता से 1200 करोड़ रुपये बचा कर रखा गया है।

प्रिय दोस्तों, आज इस लेख के माध्यम से हम आपको इस यूपी कन्या सुमंगला योजना 2022 से संबंधित संपूर्ण डेटा जैसे आवेदन प्रक्रिया, पात्रता, दस्तावेज आदि की आपूर्ति करेंगे। इसलिए हमारे लेख को ध्यान से पढ़ें।
योजना के तहत 1.01 लाख नए लाभार्थियों को पेश किया जाएगा
जैसा कि आप सभी जानते हैं कि UP Kanya Sumangala Yojana के माध्यम से सरकार के माध्यम से देश की महिलाओं को विभिन्न चरणों में ₹15000 की राशि प्रदान की जाती है। अब इस योजना के तहत 21 दिसंबर, 2021 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 1.01 लाख लाभार्थियों को 20.20 करोड़ रुपये की राशि हस्तांतरित की जाएगी।

इस योजना के तहत अब तक 9.92 लाख महिलाओं को लाभान्वित किया गया है। इस योजना के तहत इक्कीस दिसंबर 2021 को 1.01 लाख अतिरिक्त लाभार्थियों को वितरित किया जाएगा। इसके अलावा, 20,000 बैंकिंग संवाददाता सखियों को भी प्रधान मंत्री का उपयोग करके महीने-दर-महीने वजीफा दिया जाएगा। यह जानकारी एक प्रवक्ता ने दी है। देश की सरकार सभी 58189 ग्राम पंचायतों में एक बैंकिंग समूह संवाददाता सखी नियुक्त करना चाहती है।

यूपी कन्या सुमंगला योजना 2022 की मुख्य विशेषताएं

योजना का नामUP Kanya Sumangala Yojana
उत्तर प्रदेश सरकार काशुभारंभ किसने किया
उत्तर प्रदेशके लाभार्थी नागरिक
उद्देश्यउत्तर प्रदेश की लड़कियों को अधिक से अधिक शिक्षा प्रदान करना और उनका भविष्य उज्ज्वल बनाना।
आधिकारिक वेबसाइटयहां क्लिक करें
वर्ष2022
सब्सिडी ₹15000
किश्तें 6
बजट1200 करोड़

स्वालंबन शिविर का आयोजन किया जाएगा

UP Kanya Sumangala Yojana उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं को सशक्त और आत्मनिर्भर बनाने के इरादे से शुरू की गई थी। इस योजना के तहत बालिका के जन्म के बाद 6 किश्तों में आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

इस UP Kanya Sumangala Yojana के तहत अक्टूबर से दिसंबर तक आत्मनिर्भरता शिविर लगाया जाएगा। इन शिविरों के माध्यम से पात्र हितग्राहियों के कार्यों को प्राप्त किया जाएगा और उन्हें लाभान्वित किया जाएगा। ये कैंप सभी जिलों में 26 अक्टूबर, 12 और 25 नवंबर और आठ व 22 दिसंबर को तैयार किए जाएंगे. इस UP Kanya Sumangala Yojana से अब तक 10 लाख से अधिक बालिकाएं लाभान्वित हो चुकी हैं।

इस UP Kanya Sumangala Yojana के माध्यम से देय राशि बिना किसी देरी के पीएफएमएस के माध्यम से लाभार्थियों के बैंक खाते में स्थानांतरित कर दी जाएगी। इस योजना का लाभ केवल उत्तर प्रदेश के चिरस्थायी निवासियों को ही प्रदान किया जाएगा। इसके अलावा, केवल वही परिवार जिनके परिवार का वार्षिक लाभ अधिकतम ₹300000 है और जिनके परिवार में अधिकतम दो युवा हैं, इस योजना का लाभ पाने के पात्र हैं।

2 लाख नए लाभार्थियों को UP Kanya Sumangala Yojana से जोड़ा जाएगा

उत्तर प्रदेश सरकार के माध्यम से दिसंबर 2021 का उपयोग करके कन्या सुमंगला के तहत दो लाख नए लाभार्थियों को जोड़ने का चयन किया गया है। इस UP Kanya Sumangala Yojana के माध्यम से 15 वर्ष की अवधि में महिला शिशु को ₹15000 की आपूर्ति की जाती है। सभी पचहत्तर जिलों में नए लाभार्थियों की पहचान की जाएगी।

यह आंकड़े महिला कल्याण एवं बाल विकास निदेशक मनोज राय के माध्यम से उपलब्ध कराए गए हैं। इस UP Kanya Sumangala Yojana के माध्यम से, बालिकाओं को शिक्षित और आत्मनिर्भर बनने में मदद की जा सकती है। प्रत्येक जिले को एक विशेष लक्ष्य दिया गया है। ताकि वह उसके अनुसार कार्रवाई कर सके। सभी जिलों में 15 अक्टूबर 2021 तक कम से कम 70000 लाभार्थियों को कवर करने का लक्ष्य रखा गया है।

नवंबर और दिसंबर में भी इस योजना के तहत 70000 और नए लाभार्थियों को शामिल करने का लक्ष्य रखा गया है। यह योजना अप्रैल 2019 में शुरू की जाती थी। तो इस योजना के माध्यम से 10 लाख से अधिक महिला बच्चों को लाभान्वित किया गया है। इस योजना के तहत लाभ की राशि बिना देर किए लाभार्थी के खाते में भेज दी जाती है। मिशन शक्ति अभियान के तहत 1.55 लाख से अधिक नए लाभार्थियों को इस योजना के तहत लाया गया है।

Read more – UP Marriage Online Registration 2022:

9.91 महिलाएं अब तक UP Kanya Sumangala Yojana का लाभ उठा चुकी हैं

जैसा कि आप सभी कानो को पहचानते हैं
सुमंगला की शुरुआत 1 अप्रैल 2019 को उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा की गई थी। इस UP Kanya Sumangala Yojanaके माध्यम से राज्य की बेटियों को 15 वर्ष की अवधि में ₹ 15,000 की राशि प्रदान की जाएगी। यह राशि किश्तों में दी जाएगी। शेष किश्त की राशि महिला को प्रारंभ या डिप्लोमा पाठ्यक्रम में प्रवेश लेने पर दी जाएगी

UP Kanya Sumangala Yojana के तहत अब तक 9.91 लाख लाभार्थियों को डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के जरिए ट्रांसफर किया जा चुका है। यह आंकड़े उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 12 सितंबर 2021 को प्रस्तुत किए गए थे। इसके अलावा मिशन शक्ति अभियान के तहत इस योजना के तहत 1.55 लाख नई पात्र महिलाओं का पंजीकरण किया गया है।

9.36 लाख महिलाएं UP Kanya Sumangala Yojana से लाभान्वित हुई हैं

UP Kanya Sumangala Yojana वर्ष 2019 में राज्य की बालिकाओं के परिवार को आर्थिक सहायता प्रदान करने, राज्य में समान लिंगानुपात स्थापित करने, बालिकाओं के स्वास्थ्य एवं स्कूली शिक्षा की देखभाल करने तथा भयानक आश्चर्य को दूर करने के लिए बालिका दिशा। शुरू किया गया था। UP Kanya Sumangala Yojana के तहत अब तक कुल 9.36 लाख महिलाएं लाभान्वित हो चुकी हैं। इस योजना के माध्यम से महिला शिशु को 6 किश्तों में आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। पहली किश्त ₹2000 की है जो जन्म के समय दी जाती है। दूसरी किस्त की आपूर्ति टीकाकरण के 1 वर्ष के बाद की जाती है जो कि ₹1000 है।

टाइप 1 में प्रवेश लेने पर 0.33 किस्त की आपूर्ति की जाती है जो कि ₹2000 की होती है। टाइप 6 में प्रवेश लेने पर चौथी किश्त दी जाती है जो ₹2000 की होती है। कक्षा 9 में प्रवेश लेने पर पाँचवीं किस्त दी जाती है, जो कि ₹3000. डिप्लोमा कोर्स में प्रवेश लेने पर छठी किस्त दी जाती है, जो ₹5000 है।

मिशन शक्ति अभियान के माध्यम से होगा UP Kanya Sumangala Yojana का प्रचार

UP Kanya Sumangala Yojana के तहत पीएफएमएस के माध्यम से लाभार्थी के खाते में किस्त की राशि ट्रांसफर की जाती है। इस योजना का लाभ केवल उत्तर प्रदेश के स्थायी निवासी ही प्राप्त कर सकते हैं। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए परिवार की वार्षिक आय ₹300000 या उससे कम होनी चाहिए तथा परिवार में अधिकतम 2 बच्चे होने चाहिए। जुलाई-अगस्त 2021 में विशेष अभियान चलाया गया है, जिसमें पात्र महिलाओं का चयन कर महिलाओं को लाभान्वित किया गया है। इसके अलावा मिशन शक्ति के पहले के चरणों और आने वाले चरणों में भी इस योजना का प्रचार-प्रसार किया जाएगा।

अगस्त माह में हर 15 दिन में प्रश्नावली शिविर भी लगाया जाएगा। इन शिविरों के माध्यम से इस योजना के तहत कार्य किए जा सकते हैं। इस योजना के प्रचार-प्रसार में राज्य के विभिन्न जनप्रतिनिधियों एवं विभिन्न विभागों का सहयोग लिया जायेगा.

UP Kanya Sumangala Yojana जनवरी अपडेट

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि UP Kanya Sumangala Yojana के तहत छात्राओं को शिक्षा प्राप्त करने के लिए प्रेरित किया जाता है। इस UP Kanya Sumangala Yojana के तहत, श्रेणी 1 में नामांकित महिला छात्रों को 2000 रुपये प्रदान किए जाते हैं। वर्गीकरण 6 में नामांकित महिला छात्रों को भी 2000 रुपये प्रदान किए जाते हैं। कक्षा 9 में नामांकित छात्राओं को ₹ 3000 और लड़की को ₹ 3000 प्रदान किए जाते हैं। दसवीं और बारहवीं कक्षा पास करने के बाद कॉलेज के छात्र।

इसके बाद दो वर्ष या उससे अधिक के प्रारंभ या डिप्लोमा निर्देशन में नामांकित छात्राओं को ₹5000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। अब सरकार इस योजना का लाभ लखनऊ की प्राथमिक, उच्च प्राथमिक, माध्यमिक और उच्च शिक्षा में पढ़ने वाली 15000 छात्राओं तक पहुंचाएगी। सरकार के सहयोग से चुनाव का तरीका शुरू किया गया है। इस संकल्प के तरीके को स्कूल के माध्यम से पूरा किया जाएगा।

UP Kanya Sumangala Yojana के माध्यम से महाविद्यालय की छात्राओं को आर्थिक सहायता देकर शिक्षा ग्रहण करने के लिए प्रेरित किया जायेगा।

इस UP Kanya Sumangala Yojana के सफल क्रियान्वयन के लिए जिला अधिकारी भी प्रयास करेंगे। फिलहाल अधिकारियों के माध्यम से सबसे ऊपर और प्रमुख महिला कॉलेज की छात्राओं की पहचान की जा रही है और इसके लिए सभी प्रतिष्ठानों को निर्देश भेज दिए गए हैं. समाधान प्रक्रिया के बाद सभी मान्यता प्राप्त छात्राओं का स्मॉल प्रिंट ऑनलाइन फीड किया जाएगा।
फरवरी 2021 तक करीब 15000 महिला छात्रों का चयन किया जाएगा। जिसमें 8000 महिलाएं प्राइमरी और हायर प्राइमरी की होंगी। 5000 महिलाएँ माध्यमिक प्रशिक्षण की होंगी और 2000 हजार महिलाएँ उच्च शिक्षा की होंगी।
UP Kanya Sumangala Yojana से 16000 बेटियों को मिलेगा फायदा

UP Kanya Sumangala Yojana जनवरी अपडेट

जैसा कि आप सभी को विदित है कि UP Kanya Sumangala Yojana के तहत पात्र हितग्राहियों को बेटियों के जन्म से लेकर स्नातक होने तक उनके जन्म पर ₹15000 की राशि प्रदान की जाती है। यह राशि छह किश्तों में दी जाती है। इस UP Kanya Sumangala Yojanaके तहत 2021 में 16000 बेटियों को लाभान्वित करने का लक्ष्य रखा गया है।

इस योजना के तहत सत्यापन का कार्य चल रहा है। सत्यापन के बाद प्रोत्साहन राशि जल्द से जल्द बेटी के खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी। UP Kanya Sumangala Yojana के तहत अब तक कुल 27000 आवेदन प्राप्त हो चुके हैं। इन 27000 आवेदनों में से लाभ की आपूर्ति की जा चुकी है
7000 आवेदकों के लिए आई.डी. जबकि 2100 से अधिक प्रयोजन लंबित हैं। 2019-20 में UP Kanya Sumangala Yojana के तहत 7000 बेटियों को लाभान्वित किया गया, 2020-21 में 16000 बेटियों को इस UP Kanya Sumangala Yojana के तहत लाभान्वित किया गया।

UP Kanya Sumangala Yojana के तहत अब तक कुल 27000 आवेदन प्राप्त हुए हैं, इनमें से 27000 आवेदन अपात्र हैं और 2100 आवेदन कई विभागों में लंबित हैं. अधिकारियों को इन लंबित उद्देश्यों को जल्द से जल्द निपटाने के निर्देश दिए गए हैं। एसडीएम औराई में 352, भदोही में 376, ज्ञानपुर में 704, डीआईओएस कार्यालय में 345, बीएसए कार्यालय में 16, प्रोबेशन कार्यालय में 14, प्रखंड अभोली में 235, औराई में 612, भदोही में 224, ज्ञानपुर में 207 और डीग में 316 निलंबित हैं. .

UP Kanya Sumangala Yojana डायरेक्ट बैंक ट्रांसफर

उत्तर प्रदेश सरकार ने देश की महिलाओं को अधिक से अधिक स्कूली शिक्षा प्रदान करने और उनके भविष्य को उज्ज्वल बनाने के लिए UP Kanya Sumangala Yojana शुरू की है। इस UP Kanya Sumangala Yojanaके तहत बालिका को ₹15000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है। जिसके लिए सरकार ने 1200 करोड़ रुपये का बजट जारी किया है। कन्या सुमंगला बेटियों के बारे में गरीब सोच को दूर करने में भी मददगार साबित होंगी और उन्हें शिक्षा के लिए प्रेरित भी करेंगी। UP Kanya Sumangala Yojana के तहत लाभ की राशि प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण के माध्यम से लाभार्थी के बैंक खाते में तुरंत प्रदान की जाती है।

UP Kanya Sumangala Yojana के तहत जागरूकता विपणन अभियान

इस UP Kanya Sumangala Yojana के तहत पात्र लड़कियों को लाभान्वित करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार के माध्यम से अभियान चलाया जाएगा। इस अभियान के तहत देशवासियों को लड़कियों के प्रति जागरूक किया जाएगा। इस UP Kanya Sumangala Yojana के माध्यम से भ्रूण हत्या पर रोक लगेगी, बाल विवाह की प्रथा पर भी रोक लगेगी। इस मान्यता अभियान के माध्यम से बच्ची के जन्म से लेकर बुरी सोच को जबरदस्त सोच में विकसित किया जाएगा। कन्या सुमंगला योजना के तहत राज्य की पात्र महिला को छह श्रेणियों की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी। इस योजना के तहत इस वर्ष केवल 6647 आवेदनों को अनुमति दी गई है।

Read also – UP One District One Product

यूपी कन्या सुमंगला योजना 2022

यूपी Kanya Sumangala Yojana के लागू होने से ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ की अवधारणा को मजबूती मिलेगी और महिला सशक्तिकरण को भी बढ़ावा मिलेगा। इस UP Kanya Sumangala Yojana के तहत आवेदन करने वाले लाभार्थियों के परिवार में अधिकतम 2 किशोर हैं। यदि किसी महिला के 2डी डिलीवरी में जुड़वाँ बच्चे हैं, तो लड़की को 0.33 बच्चे के रूप में लाभ स्वीकार्य होगा, और अगर 2डी डिलीवरी से दो जुड़वां महिलाएं हैं, तो केवल तीनों लड़कियों को लाभ होगा।

UP Kanya Sumangala Yojana 2022 का उद्देश्य

राज्य की लड़कियों को बेहतर शिक्षा देने और उनके भविष्य को उज्जवल बनाने के लिए यूपी सरकार के सहयोग से यह योजना शुरू की गई है। स्थापित करने के लिए | इस योजना के माध्यम से समाज में भ्रूण हत्या को खत्म करने और समाज में महिलाओं की दिशा में प्रभावी सोच बढ़ाने के लिए।

हिम मॉर्गेज ऑनलाइन आवेदन करें 2022

इस UP Kanya Sumangala Yojana के तहत, उत्तर प्रदेश सरकार ने ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया को अधिकृत किया है, यदि देश के संबंधित लाभार्थी इस योजना के तहत अपनी बेटी के लिए आवेदन करना चाहते हैं, तो वे योजना की प्रामाणिक वेबसाइट @mksy.up पर जा सकते हैं। .gov.in. ऑनलाइन फॉलो कर सकते हैं। UP Kanya Sumangala Yojana 2022 के तहत अधिकारियों का उपयोग करके दी जाने वाली कुल 15000 रुपये की राशि बिना देरी के लाभार्थी के बैंक खाते में स्थानांतरित कर दी जाएगी, इसलिए आवेदक के पास अपना स्वयं का बैंक खाता होना अनिवार्य है, यह राशि पीएफएमएस के माध्यम से लाभार्थी के बैंक में। खाते में ट्रांसफर कर दिया जाएगा।

UP Kanya Sumangala Yojana की 6 किश्तें
  • श्रेणी प्रकार _ भुगतान की जाने वाली राशि
  • श्रेणी 1 – यदि बालिका का जन्म 1 अप्रैल 2019 को या उसके बाद हुआ है और इस योजना के तहत बालिका के लिए आवेदन जन्म तिथि से 6 महीने के भीतर करना होगा। 2000 रुपये की राशि दी जाएगी।
  • कैटेगरी 2 – एक साल तक की बच्ची का संपूर्ण टीकाकरण के बाद 1000 रुपए दिए जाएंगे।
  • श्रेणी 3 – श्रेणी 1 में बालिका का प्रवेश लेने पर 2000 रुपये की राशि प्रदान की जाएगी।
  • 4 – श्रेणी 6 में बालिकाओं का प्रवेश लेने पर 2000 रुपये की राशि प्रदान की जाएगी।
  • श्रेणी 5 – कक्षा 9 में प्रवेश लेने के बाद 3000 रुपये
  • श्रेणी 6 – कक्षा 10/12 वीं उत्तीर्ण और स्नातक/डिग्री या कम से कम दो साल के डिप्लोमा में प्रवेश लेने के लिए वर्तमान दिन के ट्यूटोरियल सत्र 5000 के माध्यम से प्रदान किया जाएगा।

UP Kanya Sumangala Yojana के लाभ

  • UP Kanya Sumangala Yojana 2022 एक ऐसी पहल है जो पूरी तरह से महिला बच्चे के सुधार के लिए काम करती है |
  • और साथ ही उनकी सामाजिक सुरक्षा सुनिश्चित करती है।
  • यह योजना राज्य में बालिकाओं की सुरक्षा और सुरक्षा, स्वास्थ्य |
  • और शिक्षा से जुड़ी सभी सीमाओं को दूर करने के उद्देश्य से लागू की गई है।
  • UP Kanya Sumangala Yojana के तहत लाभार्थी के परिवार का वार्षिक लाभ अधिकतम तीन लाख या उससे कम होना
  • चाहिए, तभी वह इसका लाभ उठा सकता है।
  • इस योजना के तहत एक परिवार की अधिकतम दो लड़कियों को इस योजना के तहत लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • यदि राज्य की कोई महिला अपनी दूसरी डिलीवरी के समय जुड़वा बच्चों को जन्म देती है |
  • तो 0.33 महिला भी इसके लिए पात्र होगी।
  • इस योजना का लाभ लेने के लिए आवेदक को सबसे पहले इस योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन करना होगा।
  • आप घर बैठे इंटरनेट के जरिए ऑनलाइन फॉलो कर सकते हैं।

{UP Kanya Sumangala Yojana 2022 की मुख्य विशेषताएं}

  • इस योजना के तहत बालिका के जन्म से लेकर उसके शोध तक का पूरा खर्च 15000 रुपये आर्थिक सहायता के ढाँचे में अधिकारियों द्वारा दिया जायेगा।
  • UP Kanya Sumangala Yojana 2022 के तहत लड़की के परिवार का वार्षिक लाभ तीन लाख या उससे कम होना चाहिए।
  • योजना का पूरा बजट राष्ट्र सरकार द्वारा रु. 1200.
  • यदि उत्तर प्रदेश के किसी परिवार ने किसी अनाथ लड़की को गोद लिया है तो इस योजना की लाभार्थी अधिकतम 2 महिलाएं
  • होंगी, जिनमें घर के जैविक बच्चे और कई रूपों में गोद लिए गए बच्चे शामिल हैं।
  • एमकेएसवाई 2022 के तहत, परिवार की केवल 2 लड़कियों को ही पात्र देखा जाएगा।
  • UP Kanya Sumangala Yojana 2022 की पात्रता और महत्वपूर्ण फाइलें
  • आवेदक को उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक के परिवार की वार्षिक आय तीन लाख रुपये या उससे कम होनी चाहिए।
  • अगर किसी परिवार ने अनाथ लड़कियों को गोद लिया है तो गोद ली गई अधिकतम दो महिलाएं इस योजना का लाभ उठा
  • सकती हैं और साथ ही उस परिवार की दो बड़ी महिलाएं भी इस योजना का लाभ उठा सकती हैं। इस तरह उस परिवार की
  • लड़कियां इस योजना का लाभ उठा सकेंगी।
  • एक परिवार की अधिकतम दो लड़कियां इस योजना का लाभ उठा सकती हैं।
  • यदि परिवार में दो से अधिक किशोर हैं, तो अब उस परिवार को UP Kanya Sumangala Yojana का लाभ नहीं दिया जाएगा।
  • अगर किसी महिला की जुड़वां बेटियां हैं, तो इन जुड़वां बेटियों को भी इस योजना का असाधारण लाभ मिलेगा। इस स्थिति में
  • एक परिवार की तीन बेटियाँ लाभ उठा सकती हैं, दो जुड़वां बेटियाँ और एक बड़ी बेटी।
  • राशन पत्रिका
  • आय का प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • बेटी गोद ली है तो दत्तक ग्रहण प्रमाण पत्र
  • वोटर आई कार्ड
  • पते का सबूत

UP Kanya Sumangala Yojana 2022 | mksy.up.gov.in ऑनलाइन आवेदन करें?

उत्तर प्रदेश के जो परिवार इस एमकेएसवाई 2022 के तहत अपनी बेटी को लाभ प्रदान करने के लिए निरीक्षण करना पसंद करते हैं, तो नीचे दिए गए ऑनलाइन तरीके का पालन करें और योजना का लाभ उठाएं।

  • सबसे पहले आवेदक को UP Kanya Sumangala Yojana की आधिकारिक इंटरनेट साइट पर जाना होगा।
  • सम्मानजनक वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने डोमेस्टिक पेज खुल जाएगा, जिसके बाद आपको डोमेस्टिक पेज पर
  • सिटीजन सर्विस पोर्टल का ऑप्शन दिखाई देगा।
  • आपको इस ऑप्शन पर क्लिक करना है। ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने अगला पेज खुल जाएगा इस वेब
  • पेज पर आपको रजिस्ट्रेशन करना होगा।

रजिस्ट्रेशन से पहले आपको नियम दिखाई देंगे जिसके नीचे आपको I सहमत पर क्लिक करना है। फिर एक नया वेब पेज खुलेगा।
इस पेज पर आपको रजिस्ट्रेशन फॉर्म में पूछे गए सभी आंकड़े जैसे नाम, पता, मोबाइल नंबर, माता-पिता का आधार नंबर आदि भरना होगा और उसके बाद आपको ओटीपी डालकर पुष्टि करनी होगी।
सही ओटीपी डालने के बाद आपका रजिस्ट्रेशन हो जाएगा जैसे आप रजिस्टर करेंगे, आपको पर्सन आईडी मिल जाएगी। इसके द्वारा आपको एमकेएसवाई पोर्टल पर लॉगइन करना होगा।

लॉग इन

लॉग इन करने के लिए आपको यूजर आईडी और पासवर्ड डालना होगा, इससे आप लॉग इन हो जाएंगे।
पंजीकरण के बाद, आपको महिला पंजीकरण फॉर्म मिलेगा। इस रजिस्ट्रेशन फॉर्म में आपको अपनी बेटी से जुड़े मांगे गए सभी फैक्ट्स को भरना है और सभी फाइलों को जोड़ना है और फिर लास्ट में पुट अप बटन पर क्लिक करना है।
इस तरह आप इस योजना के तहत अपनी बेटी के लिए आवेदन संरचना भर सकते हैं।

UP Kanya Sumangala Yojana को ऑफलाइन कैसे देखें?

  • राज्य के जो लोग ऑनलाइन अभ्यास करने में सक्षम नहीं हैं, वे ऑफ़लाइन भी अनुसरण कर सकते हैं, हमने आपको ऑफ़लाइन अभ्यास करने की पूरी प्रणाली दी है, इसका विस्तार से अध्ययन करें और योजना का लाभ उठाएं।
  • सबसे पहले आप इसे उपरोक्त कार्यालय से निःशुल्क प्राप्त कर सकते हैं। यूटिलिटी फॉर्म प्राप्त करने के बाद आपको फॉर्म में पूछे गए सभी तथ्य भरने होंगे। सारी जानकारी भरने के बाद आपको अपनी सभी महत्वपूर्ण फाइलों को सॉफ्टवेयर फॉर्म से जोड़ना होगा।
  • उसके बाद आपको अपनी उपयोगिता प्रपत्र प्रखंड विकास अधिकारी (विकास खंड अधिकारी), एसडीएम, परिवीक्षा अधिकारी, उप मुख्य परिवीक्षा अधिकारी आदि के कार्यालय में जमा करना होगा।
  • तत्पश्चात स्टफ्ड फंक्शन संबंधित अधिकारी का उपयोग कर जिला परिवीक्षा अधिकारी (डीपीओ) को अग्रेषित किया जाएगा। डीपीओ सभी सूचनाओं को ऑनलाइन फीड करेगा और इन ऑफलाइन आवेदनों की आगे की प्रक्रिया ऑनलाइन मोड में की जाएगी।
  • इस तरह आप ऑफलाइन अभ्यास कर सकते हैं।

अपनी लॉगिन आईडी खोजने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको महिला एवं बाल विकास विभाग, उत्तर प्रदेश की आधिकारिक इंटरनेट साइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने डोमेस्टिक पेज खुलेगा।
  • इस होम पेज पर आपको Find Your Login ID be . के विकल्प पर क्लिक करना है

नीथ नई सुविधाएँ / रिपोर्ट

  • अब आपके सामने एक नया वेब पेज खुलेगा।
  • इस वेब पेज पर आपको सेल वैरायटी और कैप्चा कोड डालना होगा।
  • अब आपको Verify Mobile Number के लिंक पर क्लिक करना है।
  • जैसे ही आप हाइपरलिंक वेरिफाई मोबाइल नंबर पर क्लिक करेंगे, आपका लॉगिन आईडी आपके लैपटॉप डिस्प्ले स्क्रीन पर
  • प्रदर्शित हो जाएगा।
  • UP Kanya Sumangala Yojana से संबंधित अपनी राय देने की प्रक्रिया
  • सबसे पहले आपको महिला एवं बाल विकास विभाग, उत्तर प्रदेश की पेशेवर इंटरनेट साइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने डोमेस्टिक वेब पेज खुल जाएगा।
  • होम पेज पर आपको Your Opinion . के लिंक पर क्लिक करना है
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें आप अपनी राय दे सकते हैं।
  • UP Kanya Sumangala Yojana की जानकारी देखने की प्रक्रिया
  • सबसे पहले आपको UP Kanya Sumangala Yojana की प्रोफेशनल इंटरनेट साइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने डोमेस्टिक पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको UP Kanya Sumangala Yojana गाइड के विकल्प पर क्लिक करना है।
Or
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • इस पेज पर आपके सामने UP Kanya Sumangala Yojana की जानकारी पीडीएफ फॉर्मेट में खुल जाएगी।
  • अगर आप इसे डाउनलोड करना चाहते हैं तो आपको ऊपर दिए गए डाउन लोड ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • सर्वेक्षण भागीदारी प्रक्रिया
  • सबसे पहले आपको महिला एवं बाल विकास विभाग, उत्तर प्रदेश की प्रोफेशनल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने डोमेस्टिक पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको सर्वे लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने सर्वे स्ट्रक्चर खुल जाएगा।
  • आपको इस फॉर्म में पूछे गए सभी रिकॉर्ड दर्ज करने होंगे।
  • इसके बाद आपको पोस्ट बटन पर क्लिक करना है।
  • इस तरह आप सर्वेक्षण में चरणबद्ध हो सकेंगे।
  • सिविल मैनुअल डाउनलोड प्रक्रिया
  • सबसे पहले आपको महिला एवं बाल विकास विभाग, उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम वेब पेज खुल जाएगा।
  • डोमेस्टिक पेज पर आपको हेल्प डॉक्यूमेंट्स के टैब पर क्लिक करना है।
  • अब आपको सिविल मैनुअल के हाइपरलिंक पर क्लिक करना है।
  • इस लिंक पर क्लिक करते ही आपके सामने सिविल मैनुअल खुल जाएगा।
  • आप इसे डाउन लोड और प्रिंट कर सकते हैं।

इसे भी पड़े – यूपी श्रमिक मजदूर कार्ड पंजीकरण 2022:

नई नागरिक पंजीकरण मार्गदर्शिका डाउनलोड करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको UP Kanya Sumangala Yojana की प्रोफेशनल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • डोमेस्टिक पेज पर आपको न्यू फीचर्स/रिपोर्ट सेक्शन में जाना होगा।
  • इसके बाद आपको नए नागरिक पंजीकरण के लिए गाइड के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस ऑप्शन पर क्लिक करेंगे आपके सामने पीडीएफ फॉर्मेट में सिविल रजिस्ट्रेशन की गाइड खुल जाएगी।
  • इसके बाद आपको डाउन लोड ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह न्यू सिटीजन रजिस्ट्रेशन गाइड आपके डिवाइस में डाउनलोड हो जाएगी।
  • सभी जिलों की आवेदन सूची देखने की प्रक्रिया
  • सबसे पहले आपको UP Kanya Sumangala Yojana की प्रतिष्ठित वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने डोमेस्टिक पेज खुलेगा।
  • इसके बाद आपको New Features/Reports के पार्ट में जाना है।
  • अब आपको All District Application List के विकल्प पर क्लिक करना है
  • जैसे ही आप इस विकल्प पर क्लिक करेंगे आपके सामने एक नया पेज खुलेगा।
  • आपको इस पेज पर निम्नलिखित तथ्य दर्ज करने होंगे।
  • वित्तीय वर्ष
  • त्रिमास
  • विभाजन
  • इसके बाद आपको पुट अप ऑप्शन पर क्लिक करना होगा।
  • प्रासंगिक आँकड़े आपके पीसी स्क्रीन पर होंगे।

UP Kanya Sumangala Yojana की अधिकारी लॉगिन प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको महिला एवं बाल विकास विभाग उत्तर प्रदेश की विश्वसनीय वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • होम पेज पर आपको अधिकारी लॉगिन के हाइपरलिंक पर क्लिक करना होगा।
  • अब आपके सामने एक नया वेब पेज खुलेगा जिसमें आपको अधिकारी रोल और जिला चुनना होगा।
  • इसके बाद आपको पासवर्ड और कैप्चा कोड डालना होगा।
  • अब आपको पब्लिश बटन पर क्लिक करना है।
  • इस तरह अधिकारी लॉग इन कर सकेंगे।
  • अधिकारी नियमावली डाउनलोड करने की प्रक्रिया
  • सबसे पहले आपको महिला एवं बाल विकास विभाग उत्तर प्रदेश की वैध इंटरनेट साइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम वेब पेज खुल जाएगा।
  • डोमेस्टिक पेज पर आपको हेल्प डॉक्यूमेंट्स के टैब पर क्लिक करना है।
  • आपको ऑफिस मैनुअल के लिए हाइपरलिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे आपके सामने ऑफिसर गाइड खुल जाएगा।
  • आप इसे डाउनलोड और प्रिंट कर सकते हैं।
  • सर्कुलर को डाउन लोड करने की प्रक्रिया
  • सबसे पहले आपको UP Kanya Sumangala Yojana की कानूनी वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने होम पेज खुलेगा।
  • इसके बाद आपको सर्कुलर के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस ऑप्शन पर क्लिक करेंगे आपके सामने राउंड खुल जाएगा।
  • यदि आप इस राउंड को डाउनलोड करना पसंद करते हैं तो आपको ऊपर दिए गए डाउन लोड विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इस तरह राउंड आपके डिवाइस में डाउनलोड हो जाएगा।

प्रतिक्रिया रिकॉर्ड प्रक्रिया

  • सबसे पहले आपको महिला एवं बाल विकास विभाग उत्तर प्रदेश की प्रामाणिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • अब आपके सामने डोमेस्टिक वेब पेज खुल जाएगा।
  • घरेलू पेज पर, प्रतिक्रिया के लिए लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप इस लिंक पर क्लिक करेंगे तो आपके सामने एक कमेंट लिस्ट खुल जाएगी।

Read more info : Ration Card Surrender Update 2022

Leave a Comment