प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना 2022 एप्लीकेशन फॉर्म ऑनलाइन आवेदन व फायदे

PMGKY Form | pradhanmantri-ration-subsidy-yojana | प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना | PM Gareeb Kalyan Yojana | प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना पंजीकरण | Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana | प्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा 26 मार्च 2022 को 21 दिन के लोग डाउन को ध्यान पूर्वक रखते हुए जनता को कोई प्रॉब्लम ना हो इसके लिए शुरू की है। प्रेस कॉन्फ्रेंस को संबोधित करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने विभिन्न प्रकार के योजनाओं को प्रधानमंत्री जन कल्याण योजना के अंदर शुरू किया है |

इस योजना के सफल कार्यान्वयन के लिए केंद्र सरकार द्वारा 175 करोड़ की राशि की है विधान मंत्री की इस योजना का लाभ करोड़ों को प्रदान किया जाएगा यदि आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो इस योजना से जुड़ी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़ें |

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना

Table of Contents

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना 2022 के अंतर्गत की प्राथमिकता

जैसे कि आप जानते हैं देश में कोरोनावायरस की दूसरी लहर चल रही है जिसकी वजह से कई राज्यों में लोग डाउन है इसी बात को ध्यान पूर्वक रखते हुए हैं प्रधानमंत्री की इस योजना के अंतर्गत राशन प्रदान की जाने की घोषणा की है इस योजना के द्वारा सभी पात्र लाभार्थियों तक राशन उठाने का प्रयास किया जा रहा है प्रधानमंत्री योजना के द्वारा देश के आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के नागरिक जैसे कि सड़क पर रहने वाले कूड़ा उठाने वाले फेरीवाले चालक प्रवासी मजदूर आदि को प्राथमिकता दी जाएगी इस बात की जानकारी दी कि सचिव सुधांशु पांडे द्वारा प्रदान की गई है |

उत्तर प्रदेश गवर्नमेंट द्वारा वितरित किया गया 200 लाख मैट्रिक टन आदान

कोरोनावायरस की आर्थिक प्रभाव को कम करने में मदद करने के लिए यूपी गवर्नमेंट द्वारा अप्रैल 2022 से मार्च 2022 तक 200 लाख मैट्रिक टन खाद वितरित किया गया है और बैंड द्वारा मुफ्त खाद धन प्रदान करने की योजना को 3 महीने और बढ़ाने का निर्णय लिया गया है इस योजना के द्वारा लाभार्थियों को 35 किलो राशन के साथ दालचीनी तेल और नमक दिया जाएगा। यह वितरण पीएम जी के भाई के पांचवें चरण के अंतर्गत किया जा रहा है अप्रैल से जून 2022 के बीच अंत्योदय कार्ड धारकों को ₹195 की लागत का आठ लाख मैट्रिक टन खाद्यान्न वितरित किया गया है |

इसकी दो इसके अलावा आत्मनिर्भर भारत के अंतर्गत प्रवासी मजदूरों को 12000 मेट्रिक टन खाद्यान्न और 1100 मेट्रिक टन चना प्रदान किया गया है वर्ष 2020 से मार्च 2022 तक 134 लाख मैट्रिक टन फ्री का दान दिया गया है इसके अलावा जून 2021 से अगस्त 2021 के बीच सभी कार्ड धारकों को मेट्रिक टन हाथ दान दिया गया है दिसंबर 2021 से मार्च 2022 तक 18 लाख मैट्रिक टन गेहूं 12 लाख मैट्रिक टन चावल और 1.35 लाख मैट्रिक टन सोयाबीन तेल और आयोडीन नमक वितरित किया गया है।

Read more – Up Ration Card List 2022:

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना सितंबर 2022 तक क्या हुआ इस योजना का विस्तार

केंद्रीय गवर्नमेंट द्वारा PMGKY को 6 महीने के लिए आगे बढ़ाने का निर्णय लिया गया है इस बात की घोषणा केंद्रीय गवर्नमेंट द्वारा 26 मार्च को जीत गई है जिसके लिए गवर्नमेंट द्वारा 30.40 लाख रुपए खर्च की जाएंगे।
अब इस योजना के द्वारा लाभार्थियों को सितंबर 2022 तकअब इस योजना के द्वारा लाभार्थियों को सितंबर 2022 तक निशुल्क राशन दिया जाएगा प्रधानमंत्री के द्वारा इस बात की जानकारी ट्वीट के द्वारा की गई है इस योजना का लाभ देश कैसे करोड़ से अधिक नागरिक उठा सकेंगे इस योजना का ऐलान 2022 के लोग डाउन लागू होने के बाद किया गया था। पी एम जी के वाई को लागू करने का मकसद कोरोनावायरस के कारण हर एक नागरिक तक राशन पहुंचाना है प्रत्येक नागरिक को इस योजना के माध्यम से 5 किलो से अधिक अनाज प्रदान किया जाएगा। देश के सभी नागरिक जिनके पास राशन कार्ड है वह अपने कोटे से राशन का साथ-साथ इस योजना के तहत प्रतिमा 5 किलो से ज्यादा राशन की प्राप्ति कर सकेंगे।

पीएम जी के वाई (प्रधानमंत्री गरीब कल्याण 2022 योजना)

योजना का नाम प्रधानमंत्री राशन सब्सिडी योजना
लाभार्थी देश के 80 करोड ला भर्ती
उद्देश्यराशन पर सब्सिडी प्रदान की जाएगी।

80 करोड़ वर्षों के लिए हटा दिया गया 759 क्लास मेट्रिक टन

आप लोग जानते हैं कि मार्च 2022 में भारत गवर्नमेंट द्वारा पीएम जी के वाई पैकेज की घोषणा की गई थी इस पैकेज के अंतर्गत प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के द्वारा वशीकरण राष्ट्रीय खाद सुरक्षा अधिनियम की लाभार्थियों को अतिरिक्त और फ्री में खाद्यान्न वितरण किया जाएगा इस योजना को महामारी के कारण आई हार्दिक बधाई का सामना करने के लिए जरूरतमंदों को खाद सुरक्षा प्रदान के उद्देश्य शुरू किया गया था |

इस प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के द्वारा योजना और प्राथमिकता वाले परिवारों के सामान्य रूप से वितरण की जाने वाली मात्रा को दोगुना कर दिया गया को दोगुना कर दिया गया था। इस प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के पहले चरण से लेकर पांचवें चरण तक लगभग 80 करोड को अनाज वितरित करने के लिए राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेश को 759 लाख मैट्रिक टन खाद्यान्न इकट्ठा किया गया है यह दान खाद सब्सिडी में लगभग 2 पॉइंट 6 लाख करोड़ रुपए के बराबर है अब तक लगभग 5 साल से लाभ मेट्रिक टन खाद्यान्न लाभार्थियों को वितरित किया गया है।

Read also – BC Sakhi Yojana online Registration 2022 :

PMGKY का पांचवा चरण प्रधानमंत्री गरीब कल्याण 2022 योजना

शुरू में इस योजना के संचालन की घोषणा केवल 3 महीने के लिए की गई थी जो कि अप्रैल 2020 मई 2020 तथा जून 2020 था यह योजना का पहला चरण था इसके बाद जुलाई 20 20 से नवंबर 2020 तक इस योजना के दूसरे चरण की घोषणा की गई थी वर्ष 2021 22 में कोविड-19 महामारी के संकट जारी रहने की वजह से अप्रैल 2021 में गवर्नमेंट द्वारा इस योजना को मई 2021 4 जून 2021 की अवधि के लिए विस्तार करने का निर्णय लिया गया था यह योजना का तीसरा चरण था इसके बाद गवर्नमेंट द्वारा इस योजना की चौधरी चरण को भी संचालित किया गया जो कि यह जुलाई 2021 से नवंबर 2021 तक था इसके बाद इस योजना का पांचवा चरण दिसंबर 21 से मार्च 2022 तक जारी रखने का निर्णय लिया गया है।

मई 2022 तक प्रदान किया जाएगा फ्री राशन योजना का लाभ

  • दिल्ली के मुख्यमंत्री द्वारा 20 दिसंबर 2021 को कैबिनेट बैठक का आयोजन किया गया था |
  • जिसमें मुफ्त राशन के वितरण को 6 महीने के लिए बढ़ाने का निर्णय लिया गया है |
  • अब दिल्ली के नागरिकों को 31 मई 2022 तक मुफ्त राशन प्रदान किया जाएगा |
  • यह जानकारी दिल्ली के मुख्यमंत्री द्वारा कैबिनेट बैठक के पश्चात एक डिजिटल प्रेस कॉन्फ्रेंस के द्वारा प्रधान की गई |
  • दिल्ली गवर्नमेंट द्वारा राष्ट्रीय खाद सुरक्षा अधिनियम और
  • पीएम जी के वाई के अंतर्गत लाभार्थियों को फ्री राशन वितरित किया जा रहा है |
  • पीएम जीकेवाई कि पिछले साल कोरोनावायरस संक्रमण के कारण लांच किया गया था।
  • पहले योजना अप्रैल से जून के लिए शुरू की गई थी |
  • जिसके पश्चात इस योजना से नवंबर तक विस्तार दिया गया था |
  • मई 2021 में दिल्ली गवर्नमेंट द्वारा जरूरतमंदों को अतिरिक्त मुफ्त राशन देने का निर्णय लिया गया था
  • एनएफसी के तहत निर्धारित पात्रता के अनुसार प्रवासी श्रमिकों असंगठित सैनिको निर्माण
  • श्रमिकों घरेलू सैनिकों समेत सभी जरूरतमंदों को 5 किलो का दान दिया जाएगा |
  • जिसके कारण पीडीएस लाभार्थियों की संख्या बढ़कर 4000000 हो गई है |
  • हर एक व्यक्ति को प्रतिमाह 6 किलोग्राम गेहूं और 1 किलोग्राम चावल प्रदान किया जाता है |
  • अब तक इस योजना के द्वारा 2000000 नागरिकों को फायदा पहुंचा है |
  • इसके अलावा इसके अंतर्गत 7.2 मिलियन को मुफ्त उपलब्ध करवाया गया है।

इसे भी पड़े – यूपी शादी अनुदान योजना 2022 :

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण 2022 योजना खदान का चरणबद्ध आवंटन और वितरण

वर्ष 2022 के दौरान- वर्ष 2021 में इस योजना का पहला और दूसरा चरण संचालित किया गया था 8 महीने की वितरण अवधि के लिए राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों को 321 लाख मैट्रिक टन खाद्यान्न इकट्ठा किया गया था

जिसमें से राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों ने देश भर में हर 1 महीने औसतन लगभग 9% आबादी जो कि 75 करोड लाभार्थी है उनको 298 एलएमटी दान के कुल वितरण की जानकारी दी है

वर्ष 2021-22 के दौरान – वर्ष 2021 22 मई चरण 3 चरण 4 और चरण 5 संचालित किए गए हैं

जिनकी जानकारी कुछ इस तरह है


चरण 3

  • 3 को मई 2022 से जून 2022 तक संचालित किया गया है
  • तीसरे चरण के दौरान 2 महीने की वितरण अवधि के लिए गवर्नमेंट द्वारा 79. 46 लाख मैट्रिक टन खाद्यान्न आवंटित किया गया है
  • जिसमें से राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों ने हर महीने
  • औसतन 95 परसेंट एनएफसी आबादी को 75 एमएलडी अदनान के वितरण की रिपोर्ट दें।
  • जिसका तात्पर्य यह है कि लगभग 75.18 करोड़ लाभार्थियों को 94 दशमलव 5 परसेंट खदान आवंटित किया गया है।

{चरण 4}

  • 4 को जुलाई 2021 से नवंबर 2021 तक संचालित किया गया है |
  • इस चरण में 5 महीने की वितरण अवधि के लिए गवर्नमेंट द्वारा राज्य एवं केंद्र शासित प्रदेशों को 198.78 लाख मेट्रिक टन खाद्यान्न आवंटित किया गया है |
  • जिसमें से 1 केंद्र शासित प्रदेशों एवं राज्य द्वारा 186.1 एलएमटी खाद्यान्न वितरण की सूचना प्रदान की गई है
  • जिसके अंतर्गत 93 परसेंट लाभार्थियों को कवर किया गया है।जिसका तात्पर्य यह है कि लगभग 74 . 4 करोड़ लाभार्थियों को 93. 6 परसेंट खदान आवंटित किया गया है


चरण 5

  • 45 को दिसंबर 2021 से मार्च 2022 तक संचालित किया जाएगा।
  • गवर्नमेंट द्वारा 4 महीने की अवधि के लिए सारे राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों को एक स्थान का आवंटन किया गया है।
  • जिसने लाभार्थियों को अब तक 19.76 खाद्यान्न का वितरण किया जा चुका है ।

एक देश एक प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना राशन कार्ड के द्वारा किया गया राशन का वितरण

  • गवर्नमेंट द्वारा एक देश एक राशन कार्ड योजना का भी आरंभ किया गया था |
  • जिसके द्वारा से सारे देश में एक राशन कार्ड के द्वारा राशन की प्राप्ति की जा सकती है।
  • बिहार कोमा आंध्र प्रदेश राजस्थान उत्तर प्रदेश तेलंगाना कर्नाटका केरला महाराष्ट्र हरियाणा ओवर मध्य प्रदेश जैसे
  • राज्य पहले चरण से लेकर चौथे चरण तक
  • प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के वितरण के लिए अंतर राज्य पोटेबिलिटी का लेनदेन की अधिकतम सीमा दर्ज की गई है
  • पुलिस थाना महाराष्ट्र गुजरात दादरा नगर हवेली तथा दमन एंड
  • उत्तर प्रदेश हिमाचल प्रदेश जम्मू एंड कश्मीर झारखंड द्वारा प्रथम चरण से लेकर चौथे चरण तक
  • इस योजना के अंतर्गत अंतरराष्ट्रीय पोटेबिलिटी लेनदेन की अधिकतम संख्या दर्ज की गई है।

उड़ीसा में मार्च 2022 तक दिए गए जाएंगे प्रति व्यक्ति 5 किलो चावल

उड़ीसा के मुख्यमंत्री द्वारा 11 दिसंबर 2021 को राज्य खाद्य सुरक्षा योजना के लाभार्थियों को प्रति व्यक्ति अतिरिक्त 5 किलोग्राम वितरित करने के लिए आदेश दिए गए हैं यह वितरण 4 महीने तक फ्री प्रदान किया जाएगा और गांव सभी योजना के लाभार्थियों को मार्च 2022 तक अतिरिक्त चावल प्रदान किए जाएंगे पूर्णविराम इस वितरण के कारण खाद्य सुरक्षा योजना के नाम अंकित लाभार्थियों को राष्ट्रीय खाद सुरक्षा अधिनियम के बराबर फायदा प्राप्त होगा। इस योजना के अंतर्गत पंजीकृत 915532 परिवारों के 2885 28 को वितरित किए जाएंगे 4 महीने तक कुल 18310. 64 टन चावल लाभार्थियों को दे देंगे पूर्व नाम जिसके लिए गवर्नमेंट द्वारा 68 पॉइंट 13 करोड रुपए खर्च किए जाएंगे।

उत्तर प्रदेश में आयोजित किया जाएगा राशन वितरण का अभियान

12 दिसंबर 2021 को उत्तर प्रदेश गवर्नमेंट द्वारा राशन वितरण के लिए अभियान शुरू करने का आदेश दिया गया है राज्य गवर्नमेंट द्वारा यह जानकारी प्रदान की गई कि यह अभियान देश का अब तक का सबसे बड़ा राशन वितरण अभियान है। अंत्योदय एवं समष्टि का राशन कार्ड धारकों को सीधे इस अभियान का लाभ प्रदान किया जाएगा और ग्राम इस अभियान के अंतर्गत अंत्योदय राशन कार्ड धारकों को और पात्र परिवारों को दोगुना राशन वितरित किया जाएगा 4 ग्राम 15 करोड़ से अधिक राशन कार्ड धारकों को यह राशन वितरण किया जाएगा। सभी सांसदों और विधायकों को इस अभियान की निगरानी करने के आदेश दिए गए हैं।
इस अभियान के द्वारा से राज्य के आर्थिक रूप से अल्पिक रूप से आर्थिक रूप से कमजोर नागरिक ,सिरेमिक और किसानों को भी लाभ पहुंचेगा। इसके अलावा यूपी गवर्नमेंट द्वारा भी राशन कार्ड धारकों को महीने में दो बार मुक्त गेहूं और चावल प्रदान करेगी,राशन की दुकानों के माध्यम से खाद तेल और नमक भी मुफ्त मुहैया करवाया जाएगा।

मार्च 2022 तक किया जाएगा इस प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का विवरण

जैसे कि आप जानती हैं पीएम जी के भाई जो योजना के माध्यम से 80 करोड़ से अधिक लाभार्थियों को प्रति महीने 5 किलो आदान प्रदान किया जाता है इस योजना को कॉमेडी नाइट्स महामारी की वजह से अप्रैल 2022 में 3 महीने के लिए शुरू किया गया था तब से इस योजना का चार बार विस्तार किया गया है। 5 नवंबर 2021 को खाद्य सचिव द्वारा बयान दिया था कि 30 नवंबर 2021 के बाद इस योजना का कोई भी विस्तार अर्थव्यवस्था में सुधार के कारण नहीं किया जाएगा। लेकिन कैबिनेट द्वारा 24 नवंबर 2021 को यह फैसला लिया गया है कि इस योजना का विस्तार मार्च 2022 तक किया जाएगा इस बात की जानकारी केंद्रीय मंत्री द्वारा प्रदान की गई इस पांचवें चरण के अंतर्गत आधार पर 53344.52 करोड़ की अनुमति होगी इसके अलावा इस योजना की कीमत 2.6 लाख करोड़ हो जाएगी करोड़ तक हो जाएगी।

दिल्ली गवर्नमेंट द्वारा किया गया योजना का विवरण

  • अब तक प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के चार चरण कार्य निर्मित की जा चुकी है।
  • चौथे चरण के अंतर्गत गवर्नमेंट द्वारा नवंबर 2021 तक अतिरिक्त खाद्यान्न किया गया था।
  • इस योजना के द्वारा से 5 किलोग्राम प्रति व्यक्ति प्रतिमाह मुफ्त राशन जाना जाता है |
  • इस योजना को कोरोनावायरस महामारी की वजह से सन 2020 में आरंभ किया गया था।
  • दिल्ली गवर्नमेंट द्वारा इस योजना का विवरण मई 2022 तक करने का निर्णय लिया गया है
  • पूर्व ग्राम केंद्र से दिल्ली गवर्नमेंट द्वारा सभी राज्य के लिए आग्रह किया गया है
  • दिल्ली के मुख्यमंत्री द्वारा कोविड-19 के कारण लोगों को मध्य नजर रखते हुए केंद्र से प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना।
  • खाद विभाग के द्वारा 7 नवंबर 2021 को आगे बढ़ाने का कोई प्रस्ताव नहीं है |
  • इस बात का फैसला OMSS पॉलिसी के तहत अर्थव्यवस्था में सुधार एवं निपटान को देखते हुए लिया गया है।

प्रदेश में किया जाएगा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण 2022 योजना का विवरण

जैसे कि आप लोग जानते हैं प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना को पुराना कॉल के दौरान मुफ्त राशन प्रदान करने के उद्देश्य से शुरू किया गया था उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा इस प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना का होने तक विस्तार करने का आदेश दिया गया है इस बात का इस बात की जानकारी मुख्यमंत्री के द्वारा 3 नवंबर 2021 को दी गई है। इस योजना का विवरण करने का निर्णय लिया गया था लेकिन अब गवर्नमेंट द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना लाभ प्रदान करने का फैसला लिया गया है |

इस योजना के द्वारा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा दी गई है एवं लाभ प्रदान करने का फैसला लिया गया है इस योजना के द्वारा उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा जानकारी दी गई है इसके अलावा मुख्यमंत्री द्वारा यह भी जानकारी दी गई है कि 5 किलो चावल यज्ञ एवं 1 किलो दाल के साथ 1 लीटर खाना बनाने वाला तेल नमक और चीनी प्रदान की जाएगी।

प्रधानमंत्री द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना 2022 के लाभार्थियों से की जाएगी बातचीत

5 अगस्त 2021 को प्रधानमंत्री द्वारा गरीब कल्याण योजना के लाभार्थियों से बातचीत की जाएगी इस प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत 5 अगस्त 2021 से राशन वितरण प्रक्रिया शुरू होने जा रही है और 1 माह का भी आयोजन किया जाएगा इस मौके पर प्रधानमंत्री द्वारा वाराणसी, गोरखपुर, मुरादाबाद, अमीर, अयोध्या, बाराबंकी, शाहजहांपुर, कौशांबी, आगरा और बहराइच, की चुनिंदा उचित मूल्य दुकानों के लाभार्थियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा बातचीत की जाएगी वहां तक उचित मूल्य की दुकान पर लगभग 16 वर्ष होने और उचित मूल्य की दुकानों पर टेलीविजन की व्यवस्था भी सुनिश्चित की जाएगी और वहां मौजूद बातचीत की दुकान पर उपलब्ध जिला पूर्ति अधिकारी को सौंपा गया है |

Leave a Comment